Kitabikeeda to sabhi h .......be a storyworm

Uncategorized

बेरोज़गार आशिक़-2

बेरोज़गार आशिक़-2

मेक अप के नाम पे वो बस काजल ही लगाती थी! काजल की एक लेयर। मैं जब भी पूछता तो बोल देती “तुम तो मिल ही गए हो, मेकअप वेकअप की क्या ज़रूरत?” कठिन से कठिन उलझनों को भी आसान बना देती थी! उसके शहर […]